Mahindra SUV :तेरी जेब में 10 रुपये भी नहीं होंगे’? ले आया किसान 10 लाख कैश

Share this articale

Mahindra SUV , कर्नाटक के तुमकुर (Tumakuru, Karnataka) में एक किसान अपने दोस्तों के साथ कार के शोरूम पहुंचा. वह अपने लिए ड्रीम कार खरीदने गया था. लेकिन कथित तौर पर उसके कपड़े देखकर सेल्समैन (Farmer SUV Showroom) ने उसे अपमानित कर भगा दिया. बस फिर क्या था, इसके बाद किसान ने जो किया उसे देखकर सेल्समैन की आंखें फटी की फटी रह गईं. आइए जानते हैं पूरा किस्सा..

रिपोर्ट के मुताबिक, ये घटना Chikkasandra Hobli में किसान केम्पेगौड़ा आरएल (Kempegowda RL) के साथ हुई, जब वो अपने दोस्तों के साथ महिंद्रा शोरूम (Mahindra Showroom) में एक SUV खरीदने गए थे. केम्पेगौड़ा पेशे से सुपारी किसान हैं. आरोप है कि जब उन्होंने वहां मौजूद सेल्समैन से गाड़ी के रेट को लेकर पूछताछ की तो वेशभूषा देखकर एक सेल्समैन ने उनका मजाक उड़ाया.

Mahindra SUV , Mahindra SUV Showroom, Farmer,
Mahindra SUV Showroom

केम्पेगौड़ा ने दावा किया कि सेल्समैन ने तो उनसे ये तक कह दिया कि ‘उसकी जेब 10 लाख तो छोड़ो 10 रुपये भी नहीं होंगे.’ इसके बाद सेल्समैन ने किसान से कहा कि अगर वह 30 मिनट के अंदर दस लाख रुपये कैश ले आता है तो उसे आज ही गाड़ी की डिलीवरी दे दी जाएगी.

बस फिर क्या था? केम्पेगौड़ा तुरंत वहां से निकले और कुछ ही देर में दस लाख रुपये इकट्ठे करके SUV की डिलीवरी लेने शोरूम पहुंच गए. ये देखकर वहां मौजूद लोग दंग रह गए. लेकिन विवाद तब शुरू हुआ जब सेल्स टीम ने केम्पेगौड़ा को बताया कि गाड़ी की डिलीवरी के लिए कम से कम 2-3 दिन चाहिए.

यह भी देखे : Sensex बीते 4 दिन में 2500 अंक गिरा, जानिए बाजार गिरने के 5 प्रमुख कारण

ये घटना बीते शुक्रवार को हुई. उस दिन कार की डिलीवरी नहीं हो सकी. इसके बाद सेल्स टीम ने शनिवार और रविवार को भी सरकारी अवकाश का हवाला देते हुए डिलीवरी नहीं कर पाने की बात कही. इससे केम्पेगौड़ा और उसके दोस्त नाराज हो गए और पुलिस को बुला लिया और बिना गाड़ी लिए शोरूम छोड़ने से इनकार कर दिया.

केम्पेगौड़ा ने शोरूम के सामने धरना देने की चेतावनी तक दे डाली. हालांकि, बाद में पुलिस के समझाने और सेल्समैन द्वारा माफी मांगने के बाद किसान केम्पेगौड़ा अपने घर चले गए. अब इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया तेजी से वायरल हो रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *