Elon Musk ने किया खुलासा, एक ट्वीट से Tesla ऑटोपायलट के हेड कैसे बने अशोक ?

Share this articale

Elon Musk टेस्ला (Tesla) के संस्थापक एलन मस्क ने हाल ही में ट्विटर पर खुलासा किया है कि कैसे उन्होंने अपनी टेस्ला ऑटोपायलट टीम के लिए भारत के अशोक एलुस्वामी (Ashok Elluswamy) को निदेशक के रूप में चुना है।

एलुस्वामी पहले कर्मचारी थे जिन्हें 2015 में टेस्ला की ऑटोपायलट टीम के लिए काम पर रखा गया था, जब मस्क ने ट्विटर पर उम्मीदवारों से इस पोजिशन के लिए आवेदन करने के लिए कहा था।

Elon Musk , Tesla , Ashok Elluswamy,
Elon Musk and Ashok Elluswamy

मस्क (Elon Musk) ने नौकरी के लिए आवेदन करने के लिए एक लिंक के साथ ट्वीट किया, हमेशा की तरह, टेस्ला कट्टर AI इंजीनियरों की तलाश में है, जो उन समस्याओं को हल करने में मदद करते हैं जो सीधे लोगों के जीवन को बड़े पैमाने पर प्रभावित करती हैं।

इस पोजीशन के लिए आवेदन करना बहुत आसान था। इच्छुक उम्मीदवार नाम, ईमेल, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर या एआई में किए गए असाधारण काम जैसे क्षेत्रों को भरकर, PDF फॉर्म में अपना रिज्यूमे छोड़कर अप्लाई कर सकते हैं।

Ashok Elluswamy अशोक एलुस्वामी कौन हैं ?

अशोक एलुस्वामी भारतीय मूल के इंजीनियर हैं, जो वर्तमान में टेस्ला ऑटोपायलट इंजीनियरिंग के प्रमुख हैं।

आपको बता दें कि अशोक एलुस्वामी टेस्ला में शामिल होने से पहले, वैबको वाहन नियंत्रण प्रणाली और वोक्सवैगन इलेक्ट्रॉनिक रिसर्च लैब के साथ काम कर चुके हैं।

उन्होंने कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग गिंडी, चेन्नई से इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री और कानेर्गी मेलॉन विश्वविद्यालय से रोबोटिक्स सिस्टम डेवलपमेंट में मास्टर डिग्री प्राप्त की है।

मस्क (Elon Musk) ने ट्विटर के जरिए टेस्ला की ऑटोपायलट टीम के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि मेरी उस ट्वीट के जरिए ऑटो पायलट टीम में चुने जाने वाले अशोक पहले व्यक्ति हैं, जिसमें बताया गया था कि टेस्ला एक ऑटो पायलट टीम लॉन्च करने वाली है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *